Tue. Sep 27th, 2022

मेरे जीत
जिस दिन बात ज़बान की होगी
उस महफिल से तेरा उठ का जाना ही
मेरी जीत होगी।
जिस वक्त भरोसे की बात होगी
तेरी महफिल मे नजर झुक जाना ही
मेरी जीत होगी।
जिस दिन मोहब्बत की बात होगी
तेरी ज़बान पर मेरा नाम आ जाना ही
मेरी जीत होगी।
तू किसी से प्यार करे
और सामने वाले का तुझे इंकार करके जाना ही
मेरी जीत होगी।
तूने जो किया वही तेरे साथ होना ही
मेरी जीत होगी।
मलका पठान
(उर्दू रिसर्च स्कॉलर)

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *