Tue. Feb 7th, 2023

गोरखपुर – सरकार ट्रेन में बेहतर सुविधाओं का दावा करती है । सरकार का कहना है पहले के मुताबिक़ आज रेलवे ने ट्रेन में यात्रियों की सुविधाओं में बेहतरी की है । ट्रेन के परिचालन से लेकर यात्रियों को ट्रेन में मिलने वाली सुविधाओं के सरकारी दावो की पोल ओखला प्रेस क्लब ने खोल दिया। ट्रेन नंबर 12556 , गोरखधाम एक्सप्रेस जिसको लेकर कहा जाता है की इस ट्रेन में बेहतर सुविधा मिलती है । 10 अक्टूबर 22 को गोरखधाम एक्सप्रेस दिल्ली से गोरखपुर के लिए रवाना हुई । यात्रियों की सुविधा के नाम पर जहां पूरे ट्रेन में खाने पीने के लिए पैंटीन कार की व्यवस्था नहीं है । ट्रेन के जिन कर्मचारियों को सफ़ाई व्यवस्था करने की ज़िम्मेदारी रहती है वो कर्मचारी ख़ुद निजी तौर पर खाने पीने के लिए यात्रियों को सुविधा उपलब्ध कराते है । जिसके बदले वो रेट से ज़्यादा दाम वसूलते है । तेज़ बारिश में ट्रेन के अंदर पानी गिरने से बोगी के अंदर कीचड़ से यात्रियों का बेहद परेशानी का सामना करना पड़ता है । वही पानी के टपकने से यात्रियों को रात में दिया जाने वाला चादर ,कंबल सहित अन्य सामान गीला ही दिया गया । जिसको लेकर यात्रियों और सामान देने वाले से नोक झोंक तक हुई । हैरत की बात ये है की पानी के टपकने की चपेट में गार्ड रूम जिसमें बिजली का कंट्रोल रूम भी है । जिससे किसी भी प्रकार के शॉटसर्किट होने से आग लगने का ख़तरा हमेशा बरकरार रहता है ।
बिना किसी जाँच के कोई भी स्टेशन से ट्रेन को आगे नहीं जाने दिया जाता है जिसमें रेलवे की टीम पूरी तरह से निरीक्षण करती है । तब अधिकारियों के आज्ञा से ही ट्रेन आगे यात्रियों को लेकर आगे जाती है । लेकिन गोरखधाम एक्सप्रेस में बिना किसी निरीक्षण के ट्रेन को गोरखपुर के लिए रवाना कर दिया गया। जिसके नतीजे में बोगी नंबर -2 में पानी बाथरूम में नहीं भरा गया । जिसके वजह से यात्रियों में हड़कंप मच गया । यात्रियों ने मौजूद कर्मचारी से शिकायत की लेकिन उसको अनसुना कर दिया गया ।

इसी ट्रेन के बोगी नंबर 2 में सफ़र कर रहे एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार और ओखला प्रेस क्लब चेयरमैंन एम अतहरउद्दीन मुन्ने भारती ने ओखला प्रेस क्लब के ट्विटर हैंडल @okhlapressclub से शिकायत को लिखित और वीडियो में भेज कर की । इस ट्वीट में रेलमंत्री अश्वनी वैष्णव सहित रेलवे मंत्रालय सहित पीएमओ को टैग किया । उनके इस ट्वीट से मंत्रालय में हड़कंप मच गया ।

मंत्रालय ने आननफानन में कानपुर में बोगी में पानी की व्यवस्था की लेकिन पानी इतना कम भरा गया जो चंद घंटे में ख़त्म हो गया । मामले की गंभीरता को देखते हुए मुन्ने भारती ने पुनः ट्वीट किया । इस बार भी मंत्रालय में हड़कंप मचा लेकिन तब तक ट्रेन गोरखपुर पहुँच चुकी थी । इस बीच मुन्ने भारती ने फ़ोन के ज़रिये सीपीआरओ को इसकी जानकारी दी । मामला पीएमओ सहित रेलवे मंत्रालय तक पहुँचने की जानकारी जहां सीपीआरओ सहित गोरखपुर रेलवे स्टेशन के अधिकारियों तक पहुँचने से पहले ही हड़कंप मचा था । और अधिकारियों की एक टीम ने मुन्ने भारती सहित यात्रियों से मुलाक़ात कर यात्रा के दौरान परेशानी के लिए माफ़ी माँगी । वही डीआरएमएलजेएम और डीआरएम दिल्ली एनआर ने ट्वीट करके माफ़ी माँगी है ।

ट्रेन में मौजूद यात्रियों ने नाराज़गी जताते हुए इस पूरे मामले की जाँच की माँग की है वही इस मामले में मुन्ने भारती संवाददाता से बात करते हुए कहते है की मामला गंभीर है इस पूरे मामले में जाँच की ज़रूरत है । क्योकि ट्रेन कि अंदर बारिश का पानी आना रेलवे मंत्रालय के कार्य पर सवाल खड़ा होता है । क्योकि इस पानी से ट्रेन के अंदर शार्टसर्किट होने से पूरी ट्रेन किसी हादसे का शिकार हो सकती है ।

loading...

By Khabar Desk

Khabar Adda News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *